दुर्गाद्वात्रिशन्नांमाला स्तुति


दुर्गा द्वात्रिशन्नांमाला स्तुति

दुर्गा दुर्गतिशमनि दुर्गापद्मनिवारिणी

दुर्ग मच्छेदिनीदुर्ग साधिनी दुर्गनाशिनी|

दुर्गतोत्द्धारिणी दुर्ग निहंत्री दुर्गमाँ पहा

दुर्गमज्ञानदा दुर्ग दैत्यलोक दवानाला|
दुर्गमाँ-दुर्गमाँलोका दुर्गमार्त्सस्वरुपिणी
दुर्गमार्गप्रदा दुर्गम विद्या दुर्गमाश्रिता|

दुर्गम ज्ञानसंस्थाना दुर्गम ध्यानभासिनी

दुर्गमोहा दुर्गमगा दुर्गमार्त्सस्वरुपिणी|

दुर्गमाँ सुरसम्हंत्री दुर्गमाँयुधधारिणी

दुर्गमांगी दुर्गमता दुर्गम्या दुर्गमेश्वरी|

दुर्गभीमा दुर्गभामा दुर्गभा दुर्गधारिणी
नामामवलि इमाम्यस्तु दुर्गाया मममानव|

पठेत सर्वभयान मुक्तो भविष्यति निसंशय:||
||इति दुर्गा द्वात्रिशन्नांमाला स्तुति समाप्तः ||

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्राचीन पूजा विधि

मंगला गौरी स्तोत्रं mangala gauri stotram

विन्ध्यवासिनी स्तुति